राशिफल एवं व्रत/त्यौहार

मासिक राशिफल
January-2023
rasifal

mesh

इस वर्ष आपको अपने स्वास्थ्य और आर्थिक जीवन के संबंध में मिश्रित परिणाम प्राप्त होंगे। स्वास्थ्य और आर्थिक जीवन के संबंध में कुछ उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है। कार्य क्षेत्र की दृष्टि से वर्ष 2023 आपके लिए अनुकूल रहेगा, क्योंकि शनि की स्थिति अनुकूल है, किंतु सकारात्मक परिणाम आपको धीरे-धीरे देखने को मिलेंगे। इस वर्ष आपके सामने ऐसी स्थिति भी आ सकती है कि आप अपने कार्य में बहुत परिश्रम करेंगे, किंतु उसे नजरंदाज कर दिया जाएगा। हालाँकि आपको नौकरी के कुछ नए अवसर मिलेंगे, जो आपके लिए बहुत प्रसन्नता की बात होगी। आर्थिक रूप से देखा जाए तो अप्रैल, 2023 तक का समय औसत रूप से फलदायी सिद्ध होगा। इस दौरान आपको अपने स्वास्थ्य पर धन व्यय करने की आवश्यकता पड़ सकती है। अक्टूबर 2023 से आपके स्वास्थ्य में सुधार संभव होगा। संबंधों की बात करें तो हो सकता है कि सितंबर 2023 तक आपको बहुत अच्छे परिणाम न मिलें, किंतु कुछ भी प्रतिकूल घटित नहीं होगा। कुल मिलाकर देखा जाए तो अक्टूबर 2023 से आपको अपने संबंधों और आर्थिक स्थिति आदि के मामले में अनुकूल परिणामों की प्राप्ति होगी।

vrash

ग्रह स्थिति के अनुसार आपको अपने स्वास्थ्य, संबंध और फाइनेंस के मामले में सकारात्मक व नकारात्मक दोनों प्रकार के परिणाम प्राप्त होंगे। हालाँकि अप्रैल 2023 के बाद आपको कुछ स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है, क्योंकि बृहस्पति कुंडली के बारहवें भाव में राहु के साथ स्थित होगा। इस स्थिति में स्वास्थ्य समस्याओं से ग्रस्त हो सकते हैं। अप्रैल 2023 तक आपको फाइनेंस, कॅरियर और संबंधों के मामले में अनुकूल परिणाम प्राप्त होंगे। किंतु मई 2023 के बाद आपका स्वास्थ्य और आर्थिक स्थिति प्रभावित होने की आशंका है। स्वास्थ्य को अच्छा बनाए रखने के लिए लंबी दूरी की यात्रा करने से बचें। आर्थिक हानि से बचने के लिए निवेश करते समय अधिक सावधानी बरतें। मई 2023 से लेकर सितंबर 2023 तक आपके संबंधों में भी उतार-चढ़ाव आ सकते हैं। आपको सुझाव दिया जाता है कि स्वयं को शांत रखें और सबके साथ विनम्र व्यवहार करें। कॅरियर की बात करें तो अप्रैल 2023 तक आपको मध्यम परिणाम प्राप्त होंगे और अक्टूबर 2023 के बाद अच्छे परिणाम प्राप्त होंगे।

mithun

इस वर्ष अप्रैल 2023 तक आपको अपने स्वास्थ्य, कॅरियर और आर्थिक मामले में अनुकूल परिणाम प्राप्त होंगे। व्यक्तिगत जीवन की बात करें तो आपकी रुचि आध्यात्मिक कार्यों में अधिक हो सकती है। अप्रैल 2023 के बाद राहु आपके ग्यारहवें भाव में बृहस्पति के साथ स्थित होगा, जिसके कारण आपको अप्रत्याशित रूप से धन लाभ हो सकता है। साथ ही आपको अपने कॅरियर में वृद्धि देखने को मिलेगी तथा पारिवारिक वातावरण भी सुखद और सौहार्दपूर्ण रहेगा। राहु सितंबर 2023 तक आपके ग्यारहवें भाव में उपस्थित रहेगा, जो कि आपके अंदर ढेर सारी इच्छाओं को जन्म देगा और सभी इच्छाएँ पूरी न होने के कारण आप थोड़ा असंतुष्ट हो सकते हैं। व्यापार के लिए मई 2023 से आपको कुछ अच्छे बिजनेस करने के अवसर मिलेंगे, जिनसे आपको अधिक लाभ प्राप्त होगा। अक्टूबर 2023 के बाद आपको अपने कॅरियर के संबंध में बेहतरीन परिणाम प्राप्त होंगे और हो सकता है कि आपको किसी कार्य के सिलसिले से विदेश यात्रा करने का भी अवसर मिले क्योंकि राहु दसवें भाव में स्थित होगा। चौथे भाव में केतु की उपस्थिति होने के कारण, आपके ऊपर पारिवारिक जिम्मेदारियाँ बढ़ सकती हैं। दुविधापन की स्थितियों का सामना करना पड़ सकता है।

kark

सितंबर 2023 तक आपको अपने कार्य क्षेत्र, फाइनेंस और स्वास्थ्य के संबंध में कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। मई 2023 के बाद बृहस्पति दसवें भाव में तथा शनि आठवें भाव में स्थित होंगे, जिसके कारण कर्क राशि के नौकरीपेशा जातकों के कॅरियर में कुछ कठिनाइयाँ आने की आशंका है। आपके ऊपर काम का दबाव अधिक हो सकता है, यहाँ तक कि नौकरी बदलने तक की नौबत भी आ सकती है। आप वैवाहिक, पारिवारिक जीवन में सामंजस्यता बनाये रहें। सितंबर 2023 के बाद आपको अपने कॅरियर में प्रगति देखने को मिलेगी। आर्थिक लाभ में वृद्धि होगी। शनि अढ़ैया की शांति के लिए हनुमान चालीसा का पाठ करें।

sinh

अप्रैल 2023 के बाद का समय आपको अधिक सुखदायी महसूस होगा क्योंकि बृहस्पति उस समय आपके नवमें भाव में गोचर करेगा। इसके परिणामस्वरूप आपको अपने कॅरियर में पदोन्नति जैसे कुछ अवसर देखने को मिलेंगे। आर्थिक रूप से आपको लाभ प्राप्त होगा तथा आपकी रुचि आध्यात्मिकता की ओर बढ़ेगी, जो कि अत्यंत संतोषजनक होगी। आपके घर का वातावरण अत्यंत अनुकूल रहेगा। घर में विवाह जैसे शुभ अवसर देखने को मिलेंगे। यदि आप अविवाहित हैं और विवाह की प्रतीक्षा कर रहे हैं तो अप्रैल 2023 के बाद आपको विवाह के बंधन में बंधने का अवसर भी मिल सकता है। सातवें भाव में शनि स्थित होगा तथा आपके लग्न भाव पर दृष्टि डालेगा। इसके कारण आप अपने दैनिक कार्यों को लेकर आलसी हो सकते हैं। यदि आप नौकरी करते हैं तो आपको अपने कार्य में अधिक सावधानी बरतने की आवश्यकता होगी क्योंकि काम के अधिक दबाव के कारण आपसे गलतियाँ हो सकती हैं। स्वास्थ्य पर भी आपको काफी ध्यान देने की आवश्यकता होगी क्योंकि शनि के प्रभाव के कारण आपके पैरों और जोड़ों में दर्द की शिकायत हो सकती है।

kanya

स्वास्थ्य और आर्थिक मामलों में सकारात्मक फलों की प्राप्ति होगी। यदि आप स्वयं से जुड़ा कोई महत्त्वपूर्ण निर्णय लेना चाहते हैं तो अप्रैल 2023 तक का समय अधिक अनुकूल है। मांगलिक कार्य होंगे। कॅरियर की बात करें तो वर्ष 2023 लगभग पूरा ही आपके लिए प्रगतिशील रहेगा क्योंकि शनि स्वराशि कुंभ में छठें भाव में स्थित होगा। छठाँ भाव सेवा का भाव होता है और इस भाव में शनि की उपस्थिति कॅरियर के लिहाज से फलदायी सिद्ध होगी। अप्रैल 2023 के बाद बृहस्पति आठवें भाव में राहु के साथ गोचर करेगा, जिसके कारण आपके धन व्यय में वृद्धि हो सकती है। वहीं अक्टूबर 2023 के बाद आपके संबंधों में तनाव उत्पन्न होने की आशंका है क्योंकि राहु आपके सातवें भाव में गोचर करेगा और केतु पहले भाव में। राहु-केतु की शांति के लिए दान करें।

tula

छठें भाव में बृहस्पति स्थित होने से अप्रैल 2023 तक की अवधि आपके लिए थोड़ी चुनौतीपूर्ण रह सकती है। आपको अपने कॅरियर और आर्थिक मामलों को लेकर थोड़ी सावधानी बरतने की आवश्यकता होगी क्योंकि पाँचवें भाव में शनि स्थित होगा। दूसरी ओर राहु सातवें भाव में तथा केतु पहले भाव में स्थित होगा, जिसके कारण आपके व्यक्तिगत जीवन उथल-पुथल और पारिवारिक जीवन में वैचारिक मतभेद रह सकते हैं। अप्रैल में बृहस्पति आपके सातवें भाव में राहु के साथ गोचर करेगा, जिसके फलस्वरूप आपको अपने कॅरियर, फाइनेंस और संबंधों में सुधार देखने को मिलेगा। अप्रैल 2023 के बाद बृहस्पति की दृष्टि आपके लग्न तथा लाभ भाव पर पड़ेगी और आर्थिक उन्नति होगी। आपके अपने पारिवारिक जीवन में चल रही समस्याएँ दूर होंगी। सितंबर 2023 के बाद आपको अपने सभी प्रयासों में सकारात्मक फल प्राप्त होंगे क्योंकि छठें भाव में राहु तथा बारहवें भाव में केतु स्थित होगा। छठें भाव में राहु स्थित होने के कारण से आप कठिन से कठिन कार्य को भी सरलता से पूरा करने में सक्षम होंगे। केतु व्यय अधिक करायेगा।

vrashchika

आपको अपने स्वास्थ्य, संबंधों और आर्थिक मामलों में मिश्रित परिणाम मिलेंगे। अप्रैल 2023 तक आपके लिए बृहस्पति अनुकूल रहेंगे, जिसके परिणामस्वरूप आपकी आय लाभ अच्छी रहेगी। सेहत भी आपकी काफी अच्छी रहेगी, किंतु स्वयं को स्वस्थ बनाए रखने के लिए आप संतुलित आहार का सेवन करने तथा योग, व्यायाम आदि करने की आवश्यकता होगी। अप्रैल 2023 के बाद बृहस्पति का अगला गोचर भले ही अनुकूल न हो किंतु उसकी दृष्टि आपके लिए अनुकूल सिद्ध होगी। शनि का अगला गोचर आपके चौथे भाव में होगा, शनि अढ़ैया के कारण कुछ बाधायें आयेंगी। आप भविष्य के लिए कोई बड़ा निवेश कर सकते हैं। सितम्बर तक केतु व्यय की अधिकता करायेगा। सितंबर 2023 के बाद आपको अपने पारिवारिक जीवन की चिंता में कमी होगी। परिवारजनों के साथ आपके संबंध अच्छे होंगे।

dhanu

आपको अपने कार्य क्षेत्र, स्वास्थ्य और आर्थिक मामलों में सकारात्मक परिणाम प्राप्त होंगे। पूरे वर्ष के लिए तीसरे भाव में शनि का गोचर तथा अप्रैल 2023 के बाद मेष राशि में बृहस्पति का अनुकूल गोचर होने से, परेशानियों से छुटकारा मिलेगा। सकारात्मक परिवर्तन होंगे। यदि आप एक व्यवसायी हैं तो आपको अच्छा लाभ मिलेगा और आप कोई नया व्यवसाय भी प्रारंभ कर सकते हैं। इसके बाद बृहस्पति आपके पाँचवें भाव में गोचर करेगा, जो आपके वैवाहिक जीवन के लिए शुभ फलदायी होगा। आपकी रुचि अध्यात्म की ओर बढ़ेगी। संतान पक्ष से प्रसन्नता प्राप्त होगी। राहु शिक्षा में बाधा, भ्रम तथा दुविधा देगा। सफलता के लिए परिश्रम तथा समय का सदुपयोग करें।

makar

यह आपके कॅरियर, आर्थिक जीवन और स्वास्थ्य के लिहाज से औसत रूप से फलदायी सिद्ध होगा। आपको अपने स्वास्थ्य को लेकर अधिक सचेत रहने की सलाह दी जाती है क्योंकि चौथे भाव में राहु और दूसरे भाव में शनि स्थित होगा। यह आर्थिक या पारिवारिक चिंता भी दे सकते हैं। अप्रैल 2023 के बाद आपकी आर्थिक स्थिति में उतार-चढ़ाव हो सकते हैं क्योंकि बृहस्पति आपके चौथे भाव में राहु के साथ स्थित होगा। इन ग्रहों की इस स्थिति के कारण आपको अपने और अपने से बड़ों के स्वास्थ्य पर काफी धन व्यय करना पड़ सकता है। शनि स्वराशि में दूसरे भाव में स्थित होगा, जिसके परिणामस्वरूप आप अपने कॅरियर पर अधिक ध्यान देंगे और अधिक पैसा कमाने की सोचेंगे। सितंबर 2023 से राहु मीन राशि में तीसरे भाव में तथा केतु कन्या राशि में नौवें भाव में गोचर करेगा, जिसके फलस्वरूप आपको अपने कॅरियर में प्रगति और आर्थिक लाभ में वृद्धि देखने को मिलेगी। तीसरे भाव में राहु की स्थिति के कारण आपको किसी काम के सिलसिले से विदेश जाने का अवसर भी मिल सकता है।

kunbh

राशि में शनि स्थित होने के कारण कॅरियर में भी कुछ समस्याएँ आने की आशंका है। पहले भाव से शनि की दृष्टि आपके सातवें भाव पर पड़ेगी, इसलिए आपको अपने जीवनसाथी के स्वास्थ्य का अधिक ध्यान रखने की सलाह दी जाती है क्योंकि उनका स्वास्थ्य प्रभावित होने की आशंका है। सातवें भाव पर शनि की दृष्टि होने के कारण आपको जीवनसाथी के साथ संबंध में उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है। साथ ही आपको अपने मित्रों से भी सावधान रहने की आवश्यकता होगी। बृहस्पति अप्रैल तक धन परिवार के लिए शुभ रहेंगे। अप्रैल से मेष राशि में गोचर करेगा और उसकी दृष्टि सातवें भाव पर पड़ेगी। सितंबर 2023 के बाद, दूसरे भाव में राहु तथा आठवें भाव में केतु का गोचर, आपको आर्थिक समस्याएँ दे सकता है, इसलिए आपको अपने खर्चों की सही ढंग से योजना बनाने की आवश्यकता होगी। सोच-समझकर निवेश करें। ऋण लेने-देने से बचें।

min

शनि इस वर्ष कुंभ राशि में गोचर कर रहा है, जो कि साढ़ेसाती के प्रारंभिक चरण का है। इसके कारण प्रारंभ में आपको कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। व्यय की अधिकता रह सकती है। अप्रैल 2023 के बाद आपको अपने कॅरियर में प्रगति के साथ-साथ आर्थिक लाभ देखने को मिलेगा क्योंकि मेष राशि में बृहस्पति का गोचर आपके लिए शुभ फलदायी सिद्ध होगा। साल भर आपको अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता होगी क्योंकि दूसरे भाव में राहु और आठवें भाव में केतु स्थित है। इन ग्रहों की इस स्थिति के कारण नौकरीपेशा जातकों का विदेश या किसी अन्य जगह स्थानांतरण हो सकता है। दूसरे भाव में राहु की उपस्थिति के कारण, परिवारजनों और जीवनसाथी के साथ संबंधों में समस्याएँ उत्पन्न हो सकती हैं। हालाँकि आठवें भाव में स्थित केतु आध्यात्मिकता की ओर आपका झुकाव बढ़ाएगा। बृहस्पति दूसरे भाव में गोचर करेगा। वैवाहिक जीवन की समस्याओं से मुक्ति मिलेगी। कुल मिलाकर दूसरे भाव में बृहस्पति की स्थिति आपके लिए सभी प्रकार से उन्नति कारक है।


( महर्षि ज्योतिष विभाग )



माह के व्रत एवं त्यौहार

mahamedia-vrat-may-20.jpg
माह व्रत एवं त्यौहार
रविवार 1 - जनवरी 2023 ईसाई नव वर्षारम्भ
सोमवार 2 - जनवरी 2023 पुत्रदा एकादशी व्रत
बुधवार 4 - जनवरी 2023 प्रदोष व्रत
गुरूवार 5 - जनवरी 2023 श्री गुरु गोविंद सिंह जयंती (नवीनतम)
शुक्रवार 6 - जनवरी 2023 पौष पूर्णिमा/शाकम्भरी जयंती
मंगलवार 10 - जनवरी 2023 संकष्टी श्री गणेश चतुर्थी व्रत
शनिवार 14 - जनवरी 2023 श्री रामानन्दाचार्य जयंती
रविवार 15 - जनवरी 2023 मकर संक्रांति पुण्यकाल
माह व्रत एवं त्यौहार
सोमवार 16 - जनवरी 2023 षटतिला एकादशी व्रत
गुरूवार 19 - जनवरी 2023 प्रदोष व्रत
शनिवार 21 - जनवरी 2023 मौनी अमावस्या
बुधवार 25 - जनवरी 2023 वैनायकी श्री गणेश चतुर्थी व्रत
गुरूवार 26 - जनवरी 2023 श्री बसंत पंचमी/ 73वाँ गणतंत्र दिवस
सोमवार 30 - जनवरी 2023 महात्मा गाँधी स्मृति दिवस